Active and passive voice in Hindi with rules and examples

Active and passive voice in Hindi. हेल्लो दोस्तों, आज हम आपको active voice और passive voice किसे कहते है इसके बारेमे जानेंगे. अगर आप इंग्लिश ग्रामर सिख रहे हैं तो आपको active voice और passive voice के बारेमे सीखना ही होगा क्योकि यह इंग्लिश ग्रामर का एक बहोत ही महत्वपूर्ण topic हैं. ज्यादातर English sentences में active या फिर passive voice के वाक्यों का उपयोग किया जाता है और ऐसे में आपको इनकी पहचान होनी चाहिए.

Active voice and passive voice in Hindi के कुछ नियम होते है जिसके बारेमे आगे आप इस लेख में जानेंगे. यहाँ पर हम आपको active voice क्या है, passive voice क्या है, active voice और passive voice का प्रयोग कैसे करे, active voice examples, passive voice examples के बारेमे बताएँगे. परीक्षा में भी active and passive voice के बारेमे प्रश्न पूछे जाते है. बहोत से students को पैसिव वौइस् में वाक्य बनाने में दिक्कत आती है, वे इसे बहोत मुश्केल कार्य मानते है पर में आपको बता दू की यह बहोत ही आसान हैं. एक बार आपने active और passive voice के बिच क्या अंतर होता है इसे सिख गए तो आप आसानी से वाक्य बना पाएंगे.

Active Voice and passive voice in Hindi
Active Voice and passive voice in Hindi

तो चलिए शुरू करते है और सबसे पहले हम active voice क्या है, active voice in Hindi के बारेमे सीखते है और फिर हम passive voice in Hindi के बारेमे सीखेंगे.

Active voice क्या है – Active voice in Hindi

जैसे की आपको पता ही होगा की इंग्लिश वाक्य में subject (कर्ता), object, verb (क्रिया), इत्यादि होते है, तो इसमें जो क्रिया हो रही है वो कर्ता कर रहा है तो ऐसे वाक्य active voice में हैं ऐसा हम कह सकते हैं. अगर वाक्य का कर्ता सीधे तौर पर क्रिया करता हैं तो वह वाक्य active voice में होता हैं. ऐसे वाक्यों में हम subject पर ज्यादा ध्यान देते हैं. निचे active voice के दाहरण (active voice examples in Hindi) भी दिए हैं ताकि आप आसानी से इसे समज सके.

Active voice structure in Hindi

Subject + verb + object + other words.

Active voice examples in Hindi

  1. Kishan is playing. (किशन खेल रहा हैं)
  2. Rajesh sells vegetables. (राजेश सब्जी बेचता हैं)
  3. Ramila has wrote an essay. (रमिला ने निबंध लिखा हैं)

तो ऊपर active voice examples in Hindi से आपको समज में आ गया होगा की active voice किसे कहते है और इसकी पहचान कैसे करते हैं. ऐसे वाक्यों में कर्ता ही सीधे तौर पर कोई कार्य करता हैं.

सबसे आसान भाषा में समाजाने की कोशिश करू तो मान लो की आप अपने दोस्त से बात कर रहे हो और आपने जो कार्य किये है उसे आप अपने दोस्त को बता रहे हो तो ऐसे में आप जो वाक्य बोलोगे उसमे एक्टिव वौइस् होगा. जब हम आगे इस लेख में active voice और passive voice में क्या अंतर होता है इसके बारेमे चर्चा करेंगे तब आप और भी आसानी से समज पाएंगे.

Active voice को हिंदी में क्या कहते हैं – Active voice meaning in Hindi

Active voice का हिंदी मतलब सक्रीय आवाज होता हैं. पर हम सभी लोग इसे active voice के नाम से ही जानते हैं. शायद आपको भी नहीं पता होगा की इसे हिंदी में सक्रीय आवाज कहते हैं.

तो चलोये अब हम जानते है की passive voice क्या है (Passive voice in Hindi), Passive voice examples in Hindi, passive voice rules in Hindi.

Also read:

Passive voice क्या हैं – Passive voice in Hindi

जब हम किसी और के द्वारा किये गए कार्य को दर्शाते है तो ऐसे वाक्य passive voice में होते हैं. इस तरह के वाक्यों में object पर ज्यादा ध्यान दिया जाता हैं. Passive voice में कर्ता सीधे तौर पर कोई कार्य नहीं करता हैं. निचे आपको passive voice के उदाहरन दिए हैं ताकि आप आसानी से समज पाए.

Passive voice structure in Hindi

Object + verb (v3 form of verb) + by + subject

ऐसा जरुरी नहीं हैं की हर passive voice का structure ऐसा ही होगा. इससे थोडा अलग भी हो सकता हैं.

Passive voice examples in Hindi

  1. The apple was eaten by Sahil. (साहिल के द्वारा सेब खाया गया था)
  2. An article is being written by Kishan. (किशन द्वारा एक लेख लिखा जा रहा है)
  3. That glass was broken by Radhika. (वह शीशा राधिका ने तोड़ा था)

मेने यहाँ पर जानबुच कर एक उदाहरण ऐसा लिया जोकि दिखने में आपको active voice का लग रहा होगा. वह शीशा राधिका ने तोडा था, यह वाक्य शायद आपको एक्टिव वौइस् का लग रहा होगा पर यह passive voice में हैं. आप तो कहोगे की इसमें क्रिया राधिका ने की हैं. हा यह बात सही हैं पर इस वक्त जब आप यह वाक्य बोलोगे तो वह passive voice में होगा. जैसे की में बोलता हु की “मेने शीशा तोड़ दिया था” तो यह active voice में हैं पर जब में किसी और के द्वारा तोडा गया शीशा के बारेमे किसी और को बताऊंगा तो में passive voice में बताऊंगा.

जब भी आप किसीसे बात करते है तो आपने जो कार्य किया हैं वो तो आप active voice में ही बताओगे पर जब आप किसे और के द्वारा किये गए कार्य का जिक्र अपने दोस्त या फिर जिससे आप बात कर रहे हो उसे करते है तो ऐसे में आप पैसिव वौइस् में उस वाक्य को कहोगे.

में और एक simple उदाहरण लेकर आपको समजाता हु. मान लीजिये तिन लोग हैं, दीपक, मयूर, और सागर. अब इन तीनो में से दीपक और मयूर ने किसी टॉपिक पर एक निबंध लिखा हैं. तो अब समजियेगा. अब, दीपक और सागर एक दुसरे से बात कर रहे है, तो ऐसे में दीपक सागर को यह बताएगा की “मेने एक निबंध लिखा हैं” और यह वाक्य एक्टिव वौइस् में होगा. अब साथ में मयूर ने भी तो एक निबंध लिखा हैं तो इसे बताने के लिए दीपक सागर को कहेगा की “मयूर के द्वारा भी एक निबंध लिखा गया हैं” और वह वाक्य पैसिव वौइस् में होगा. तो जब आप किसी दुसरे के द्वारा किये गए कार्य को किसी तीसरे को बताते हो तब जो वाक्य बनेगा उसमे पैसिव वौइस् होगा. अब active voice और passive voice किसे कहते है इसे समजने का इससे अच्छा तरीका कोई हो ही नहीं सकता. मेने आपको सबसे आसान भाषा में समजने का प्रयत्न किया हैं.

Passive voice को हींदी में क्या कहते हैं – Passive voice meaning in Hindi

Passive voice का हिंदी मतलब निष्क्रिय आवाज होता हैं. Active voice और passive voice का हिंदी meaning सक्रीय और निष्क्रिय आवाज होता हैं.

तो अब आपको पता चल गया होगा की active voice किसे कहते हैं (Active voice in Hindi), passive voice किसे कहते हैं (Passive voice in Hindi), active और passive voice की पहचान कैसे करे.

यह भी पढ़े: आसानी से English grammar कैसे सीखे

Active and passive voice rules in Hindi

English grammar में active and passive voice के कुछ नियम हैं जिससे आप कोई वाक्य active voice में हैं या फिर passive voice में हैं इसका पता लगा सकते हैं और इसके साथ-साथ passive voice को active voice में बदलते वक्त उन नियमो का ध्यान रखना होता हैं.

  • Active voice में subject पहले आता हैं और object बादमे आता हैं.
  • Passive voice में हमेशा verb का 3rd form (V3) होता हैं.
  • Active voice में भी verb के 3rd form का उपयोग किया जाता हैं. मतलब की अगर कोई वाक्य perfect tense में हैं और active voice में हैं तो उस sentence में verb के 3rd form का उपयोग होगा.
  • ज्यादातर के passive voice वाक्यों में “by” शब्द का प्रयोग होता हैं. पर कभी-कभी वाक्य की जरुरत के हिसाब से by के आलावा दुसरे शब्दों का प्रयोग हो सकता हैं.
  • Passive voice में कर्ता (subject) का होना जरुरी नहीं हैं. कर्ता के बिना भी पैसिव वाक्य होता हैं.
  • Active voice में कर्ता जो काम कर रहा हैं या फिर करा हुआ हैं उसका सीधा जिक्र किया जाता हैं. जब की पैसिव वौइस् में किसी और के द्वारा किये गए काम का जिक्र किया जाता हैं, सीधे तौर पर क्रिया का हीं किया जाता हैं.

तो यह थे कुछ active voice और passive voice के नियम. इसके आलावा भी कुछ और नियम होते हैं पर सबसे ज्यादा जरुरी यही हैं. इंग्लिश ग्रामर में एक्टिव और पैसिव वौइस् की पहचान करना सिखाना बहोत जरुरी हैं. इसके साथ-साथ आपको टेंस का ज्ञान भी होना चाहिये.

यह पढ़े: टेंस कितने प्रकार के होते हैं

English grammar के सभी topics एक दुसरे से जुड़े हुए होते हैं, तो आपको सभी topics को सिखाना ही होगा. हमारे blog पर आपको इन सभी topics के बारेमे आसानी से समजाया जाता हैं. तो आप हमें follow जरुर करियेगा.

Conclusion:

तो में उम्मीद करता हु की इस article में मेने जो आपको समजाने का प्रयास किया हैं वो आपको समज में आ गया होगा. इस लेख में हमने सिखा की active voice क्या हैं (What is active voice in Hindi), passive voice क्या हैं (What is passive voice in Hindi), active और passive के नियम क्या हैं (Active and passive voice rules in Hindi), Active voice के उदाहरण, passive voice के उदाहरण, Active voice को हिंदी में क्या कहते हैं, passive voice को हिंदी में क्या कहते हैं.

अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो इसे अपने साथियों के साथ भी जरुर share करियेगा. और इंग्लिश ग्रामर के अन्य टॉपिक से जुड़े लेख भी हमारे blog पर publish किये गए हैं, उन्हें भी जरुर पढ़े.

Sharing Is Caring:

Hi, मेरा नाम Kishan Sarvaiya है. में इस ब्लॉग का founder हु. मेरा Grammarsikho.in ब्लॉग बनाने का एकमात्र उद्देश्य students को हिंदी और इंग्लिश ग्रामर, गणित और शिक्षा से जुडी जानकारी देना है.

Leave a Comment