सर्वनाम किसे कहते हैं | सर्वनाम के भेद, परिभाषा और उदाहरण

सर्वनाम किसे कहते हैं? सर्वनाम के भेद कितने होते हैं? क्या आपके मन में भी यह सवाल हैं? अगर हा, तो इस article को पढ़ने के बाद आपको इन सभी सवालो के जवाब मिल जायेंगे. हिंदी व्याकरण में बहोत सारे topics होते हैं और उन्ही में से एक topic सर्वनाम भी हैं. यहाँ पर हम आपको सर्वनाम किसे कहते हैं (Sarvanam in Hindi), सर्वनाम के प्रकार कितने हैं, और हिंदी में कुल कितने सर्वनाम होते हैं, इन सभी के बारेमे विशेषरूप से जानेंगे.

Sarvanam kise kahate hain
Sarvanam kise kahate hain

तो चलिए सबसे पहले हम हिंदी व्याकरण सर्वनाम की परिभाषा क्या हैं, सर्वनाम क्या हैं, यह जान कर इस लेख की शुरुआत करते हैं.

सर्वनाम किसे कहते हैं

सर्वनाम की परिभाषा: जिन शब्दों का प्रयोग संज्ञा के स्थान पर किया जाता हैं, उन शब्दों को हम सर्वनाम कहते हैं. जब हम संज्ञा शब्दों को वाक्य में दोबारा बताने के लिए किसी दुसरे शब्दों का प्रयोग करते हैं तो उन्हें सर्वनाम कहते हैं.

सर्वनाम दो शब्द “सर्व” और “नाम” से मिलकर बना हैं. यहाँ पर “सर्व” का मतलब होता हैं सब और “नाम” का मतलब एक संज्ञा हैं. अगर इसे सही से समजे तो सर्वनाम मतलब “सबका नाम” होता हैं. मतलब की हम उन सभी शब्दो को सर्वनाम कह सकते हैं जोकि संज्ञा के स्थान पर प्रयुक्त हुए हैं.

चलिए, सर्वनाम को सबसे आसान तरीके से समजते हैं. मान लो की आप किसी व्यक्ति के बारेमे एक paragraph लिख रहे हो तो आपको ज्यादातर वाक्य में उस व्यक्ति के नाम का प्रयोग करना होगा. यदि आप बार बार एक ही शब्द का उपयोग करेंगे तो वो अच्छा नहीं लगेगा. तो इसकी जगह हम सिर्फ एक वाक्य में ही संज्ञा मतलब की उस व्यक्ति के नाम का प्रयोग करेंगे और दुसरे वाक्यों में हम उस नाम की जगह सर्वनाम का उपयोग करंगे. जैसे की “वह”.

कुछ इस तरह,

किशन ग्रामर पढ़ता हैं. किशन नौकरी करता हैं. (बिना सर्वनाम के उपयोग से)

किशन ग्रामर पढ़ता हैं. वह नौकरी करता हैं. (सर्वनाम का उपयोग किया हैं.)

तो इन दो वाक्यों में हमने दो बार “किशन” संज्ञा का प्रयोग किया हैं. तो इसकी जगह हम सर्वनाम का उपयोग करेंगे. तो कुछ इस प्रकार हम सर्वनाम का उपयोग कर सकते हैं.

यदि आप संज्ञा के बारेमे नहीं जानते तो यह पढ़े: संज्ञा किसे कहते हैं

आईए, इसके बारेमे डिटेल से जानते हैं. पहले हम सर्वनाम के उदाहरण समजते हैं.

सर्वनाम के उदाहरण

  • तुम बहोत अच्छे हो.
  • यहाँ पर कोई नहीं हैं.
  • वह शहर जाने की तैयारी कर रहा हैं.
  • मैंने आज एक बुक पढ़ी.
  • कौन आ रहा हैं?

हिंदी ग्रामर में सर्वनाम कितने होते हैं? क्या आप यह जानते हैं? निचे आपको हिंदी व्याकरण में कितने सर्वनाम कौन कौन से हैं उसकी जानकारी दी गयी हैं.

हिंदी में र्वनाम कितने हैं

हिंदी में कुल 11 सर्वनाम हैं. उन सभी ग्यारह सर्वनाम के नाम निचे दिए गए हैं.

  1. में
  2. तू
  3. आप
  4. यह
  5. वह
  6. सो
  7. जो
  8. कोई
  9. कुछ
  10. कौन
  11. क्या

इन सभी ग्यारह सर्वनामो को मूल सर्वनाम कहते हैं. मतलब की यह सभी सर्वनाम वाक्य में दुसरे सर्वनाम भी बना सकते हैं जिन्हें हम यौगिक सर्वनाम कहते हैं. तो आपको यह समजना हैं की इन ग्यारह सर्वनाम को मूल सर्वनाम कहते हैं और इसके आलावा जितने भी सर्वनाम हैं वे सभी यौगिक सर्वनाम कहलाते हैं.

तो अब आपको पता चल गया होगा की सर्वनाम किसे कहते हैं, सर्वनाम की परिभाषा क्या हैं, सर्वनाम के उदाहरण हिंदी में क्या हैं, हिंदी व्याकरण में कुल कितने सर्वनाम हैं.

अब बारी आती हैं सर्वनाम के कितने भेद होते हैं यह जानने की. निचे आपको सर्वनाम के भेद कितने होते हैं की जानकारी दी गयी हैं.

यह भी पढ़े:

सर्वनाम के भेद

सर्वनाम के कुल 6 भेद हैं. उन 6 प्रकारों के बारेमे विशेष जानकारी निचे दी गयी हैं.

  1. पुरूषवाचक सर्वनाम
  2. निजवाचक सर्वनाम
  3. निश्चयवाचक सर्वनाम
  4. अनिश्चयवाचक सर्वनाम
  5. प्रश्नवाचक सर्वनाम
  6. संबंधवाचक सर्वनाम

पुरूषवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं

पुरूषवाचक सर्वनाम की परिभाषा: उन सर्वनाम शब्दों को पुरुषवाचक सर्वनाम कहते हैं जिनको हम वाक्य में खुद के स्थान पर या फिर सुनने वाले के के स्थान पर करते हैं. मतलब की बात को सुनने वाले की जगह या फिर बात को कहने वाले की जगह उपयोग में लिए जाने वाले शब्दो को पुरुषवाचक सर्वनाम कहते हैं.

जैसे की,

वह, यह, मैं, तुम, आप, हम, इत्यादि. यहाँ पर “हम” मतलब आप खुद के बारेमे बता रहे हैं, “तुम” मतलब आप सुनने वाले के बारेमे बता रहे हैं और “यह” मतलब आप किसी तीसरे व्यक्ति के बारेमे बात कर रहे हैं.

पुरुषवाचक सर्वनाम के उदाहरण

  • में जयपुर जा रहा हु.
  • तुम क्या करते हो?
  • वह बहोत ही होशियार हैं.

अभी पुरुषवाचक सर्वनाम के भी तिन प्रकार होते हैं. निचे आपको पुरुषवाचक सर्वनाम के प्रकार के बारेमे बताया गया हैं.

पुरुषवाचक सर्वनाम के प्रकार

  1. उत्तम पुरुषवाचक सर्वनाम
  2. मध्यम पुरुषवाचक सर्वनाम
  3. अन्य पुरुषवाचक सर्वनाम
उत्तम पुरुषवाचक सर्वनाम

जिन सर्वनाम का उपयोग लिखने वाला या फिर बोलने वाला खुद के लिए करता हो तो उन सर्वनामो को हम उत्तम पुरुषवाचक सर्वनाम कहेंगे. जैसे की, मैं, हम, हमें, हमारा, हमने, मुजसे, मुजको, इत्यादि.

Example: मैं हमेशा खुश रहता हु.

मध्यम पुरुषवाचक सर्वनाम

जब हम सुनने वाले व्यक्ति के लिए सर्वनाम शब्दों का प्रयोग करते हैं तो उन शब्दों को मध्यम पुरुषवाचक सर्वनाम कहते हैं. जैसे की, तुम, आप, तुमको, आपको, तू, इत्यादि.

Example: तुम खेलने जा रहे हो क्या?

अन्य पुरुषवाचक सर्वनाम

जब वक्ता यानी की बोलने वाला व्यक्ति किसी तीसरे व्यक्ति के बारेमे बात करता हैं तब हम अन्य पुरुषवाचक सर्वनाम सर्वनाम का उपयोग करते हैं. जैसे की, यह, वह, उनको, इसके, इस, उस, इत्यादि.

Example: वह बहार जा रहा हैं.

Also read: एकवचन और बहुवचन क्या हैं

निजवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं

निजवाचक सर्वनाम की परिभाषा: जिन सर्वनाम शब्दों से हमें अपनापन या फिर खुद का होने का बौध होता हैं तो उन शब्दों को निजवाचक सर्वनाम कहते हैं. जब आप किसी चीज़ या व्यक्ति के साथ अपनापन दिखाते हैं तब निजवाचक सर्वनाम का उपयोग कर सकते हैं. जैसे की, अपना, अपनी, खुद, स्वयं, आप, इत्यादि.

निजवाचक सर्वनाम के उदाहरण

  • यह में खुद के लिए कर रहा हु.
  • में अपने भाई के साथ मंदिर जाता हु.
  • क्या तुम मेरा घर देखना चाहोगे?

निश्चयवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं

निश्चयवाचक सर्वनाम की व्याख्या: जब हमें अपने से किसी नजदीक या फिर दूर के निश्चित व्यक्ति या वस्तु का बौध होता हैं तो उसे दर्शाने के लिए जिन सर्वनाम शब्दों का प्रयोग करते हैं, उन्हें निश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं. जैसे की, यह, वह, ये, वे, इत्यादि.

निश्चयवाचक सर्वनाम के उदाहरण

  • वह नरेश का घर हैं.
  • ये उसका फ़ोन हैं.
  • वह सुमित की बुक हैं जो वो रोज़ पढ़ता हैं.

यहाँ पर “यह” सर्वनाम किसी नजदीकी वस्तु या व्यक्ति को दर्शाने के लिए और “वह” सर्वनाम किसी दूर की वस्तु या फिर व्यक्ति को दर्शाने के लिए उपयोग में लिया जाता हैं.

अनिश्चयवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं

अनिश्चयवाचक सर्वनाम की व्याख्या: जिन शब्दों से हमें किसी निश्चित व्यक्ति, वस्तु या घटना के बारेमे पता नहीं चलता हैं तो ऐसे सर्वनाम शब्दों को हम अनिश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं. जैसे की, कुछ, कोई, किसी, इत्यादि.

अनिश्चयवाचक सर्वनाम के उदहारण

  • वहा पर कोई हैं.
  • में हमेशा कुछ पढ़ा करता हु.
  • सुनील कुछ ला रहा हैं.

यहाँ पर हमें किसी भी वाक्य में निश्चितता का बौध नहीं होता हैं, मतलब सब कुछ अनिश्चित हैं. अर्थात, ये सब अनिश्चयवाचक सर्वनाम हैं.

प्रश्नवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं

प्रश्नवाचक सर्वनाम की परिभाषा: जिन सर्वनाम शब्दों का उपयोग करने से वाक्य में प्रश्न उत्पन होता हो, मतलब की हमें किसी प्रश्न का बौध होता हो तो उन्हें प्रश्नवाचक सर्वनाम कहते हैं. जैसे की, कौनसा, कौन, कहा, किसका, इत्यादि, क्या.

प्रश्नवाचक सर्वनाम के उदहारण

  • उस शहर में क्या देखनेलायक हैं?
  • वह कौन हैं और कहा रहता हैं?
  • यह पेन किसका हैं?

पहले वाक्य में आप जानना चाहते हो की उस शहर में क्या देखनेलायक हैं मतलब की आपको नहीं पता हैं की वहा पर क्या-क्या देखने योग्य हैं. आप प्रश्न कर रहे हैं. ठीक उसी तरह, बाकीके वाक्यों में भी हमें प्रश्न होता हैं और हम उनका जवाब जानना चाहते हैं.

यह भी पढ़े: सम्पूर्ण हिंदी वर्णमाला

संबंधवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं

संबंधवाचक सर्वनाम की परिभाषा: जों सर्वनाम शब्द एक वाक्य का किसी दुसरे वाक्य के साथ या किसी दुसरे शब्दों के साथ संबंध को स्थापित करते हैं उन्हें संबंधवाचक सर्वनाम कहते हैं. इससे व्यक्ति या फिर वस्तु के संबंध का बौध होता हैं. जैसे की, जो-सो, जैसा, जितना-उतना, इत्यादि.

संबंधवाचक सर्वनाम के उदाहरण

  • जो कर्म करेगा उसको ही फल मिलेगा.
  • तुम जीतनी पढाई करोगे उतने ही अच्छे मार्क्स ला पाओगे.
  • लोग उन्ही के साथ अच्छा बर्ताव करते हैं जों दुसरे लोगो के साथ अच्छे से बात करते हैं.

अन्य हिंदी व्याकरण:

तो यहाँ पर हमने सर्वनाम किसे कहते हैं और उसके भेद क्या हैं के बारेमे विस्तार से जान लिया हैं. हमने सर्वनाम के 6 प्रकार के बारेमे आपको पूरी जानकारी दे दी हैं. यहाँ पर बहोत ही सरल तरीके से आपको सर्वनाम क्या हैं, सर्वनाम कितने प्रकार के होते हैं और हिंदी में सर्वनाम कितने होते हैं, यहाँ बताया गया है.

Sarvanam FAQ

सर्वनाम को English में क्या कहते हैं?

सर्वनाम को English में कहते Pronoun हैं.

सर्वनाम के कितने भेद होते हैं?

हिंदी में सर्वनाम के कुल 6 भेद हैं. वे 6 प्रकार कुछ इस प्रकार हैं: पुरूषवाचक सर्वनाम, निजवाचक सर्वनाम, निश्चयवाचक सर्वनाम, अनिश्चयवाचक सर्वनाम, प्रश्नवाचक सर्वनाम और
संबंधवाचक सर्वनाम

Conclusion:

हमें आशा हैं की सर्वनाम के बारेमे लिखा गया यह पोस्ट आपको पूरी तरह से समज में आ गया होगा. अगर आपके मन में अभी भी कोई प्रश्न हैं तो आप हमें कमेंट करके जरुर बताये. सर्वनाम के examples, सर्वनाम के 6 भेद कौन कौन से हैं, संज्ञा और सर्वनाम के बिच क्या संबंध हैं, यह सिखाया हैं.

आप हिंदी व्याकरण के topics की quiz में भाग लेना चाहते हो तो आप यहाँ पर ले सकते हैं: हिंदी व्याकरण Quiz

इस लेख को अपने दोस्तों को जरुर शेयर करे ताकि वे भी सर्वनाम और सर्वनाम के भेद के बारेमे सिख सके. धन्यवाद.

Sharing Is Caring:

Hi, मेरा नाम Kishan Sarvaiya है. में इस ब्लॉग का founder हु. मेरा Grammarsikho.in ब्लॉग बनाने का एकमात्र उद्देश्य students को हिंदी और इंग्लिश ग्रामर, गणित और शिक्षा से जुडी जानकारी देना है.

Leave a Comment